[vc_row][vc_column]

जंग-ए-आजादी की कहानी दुर्गा भाभी की क्रांति-यात्रा पर आधारित नाटक

कला जागरण द्वारा जंग-ए-आजादी की कहानी दुर्गा भाभी की क्रांति-यात्रा पर आधारित नाटक "मैं यहीं हूँ" का...

सारण के इंटरनेशनल स्कॉलर्स स्कूल में बच्चों के लिए समर कैंप का आयोजन

पटना, बिहार, सारण जिला (नयागांव), इंटरनेशनल स्कॉलर्स स्कूल में 21 मई ( मंगलवार) को बच्चों के लिए समर...

'मितवा टीवी' के साथ 'महुआ ब्रांड' का हुआ मर्जर, क्षेत्रीय मनोरंजन के दिग्गजों ने मिलाया हाथ 

देश के पहले OTT न्यूज़ एवं भोजपुरी मनोरंजन प्लेटफॉर्म मितवा टीवी आज भोजपुरी भाषा को पसंद करने वालों क...

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर नवचेतना समिति, पंजवार, सिवान, बिहार की दिल्ली-एनसीआर इकाई ने भोजपुरी आइकॉन मनोज भावुक का किया अभिनंदन 

‘’मनोज भावुक भोजपुरी के सबसे चमकते सितारे का नाम है। खुशी व गर्व की बात यह है कि यह सितारा बिहार, हम...

स्वच्छ सर्वेक्षण में भाग लेकर पटना को बनाए नंबर वन: नीतू नवगीत - स्वच्छ सर्वेक्षण-2023 

पटना, पटना नगर निगम स्वच्छता जागरूकता टीम तथा यूथ हॉस्टल एसोसिएशन ऑफ इंडिया द्वारा युवा आवास परिसर म...

इंटरनेशनल स्कॉलर्स स्कूल में 6 मई को हुआ दीक्षांत समारोह का आयोजन

पटना के नेपालीनगर स्थित इंटरनेशनल स्कॉलर्स स्कूल में 6 मई को भव्य दीक्षांत समारोह का आयोजन हुआ. स्कू...

बिहारी लोगों को बोली गयी बात मन में चुभ गयी : बिहार कोकिला, पद्मश्री, स्व.विंध्यवासिनी देवी,लोक गायिका

बिहारी लोगों को बोली गयी बात मन में चुभ गयी : बिहार कोकिला, पद्मश्री, स्व.विंध्यवासिनी देवी,लोक गायिका
सन 1948 में जब पटना में ‘आकाशवाणी‘ की शुरुआत हुई, तब से मेरा काम और बढ़ता गया. यूँ कहें कि मैं बिहार केलिए आकाशवाणी की देन हूँ, वही मेरा मंदिर, मस्जिद, गुरुद्व...
Read more

कुश्ती और फ़िल्में देखने का शौक था : स्व. रामसुंदर दास, भूतपूर्व मुख्यमंत्री, बिहार

कुश्ती और फ़िल्में देखने का शौक था : स्व. रामसुंदर दास, भूतपूर्व मुख्यमंत्री, बिहार
  1941  में कोलकाता के विधासागर कॉलेज से इंटर करने के बाद राजनीति में चला आया और इतना रम गया कि फिर आगे पढाई नहीं कर पाया. लेकिन हाँ, किताबें पढ़ने का शौक अनवरत जारी ...
Read more

तब स्पॉट बॉय ने भी मुझे तंग किया था : के.के.गोस्वामी (हास्य अभिनेता)

वो मेरी पहली शूटिंग By: Rakesh Singh ‘Sonu’ मेरी पहली फिल्म थी भोजपुरी भाषा की ‘रखिह लाज अचरवा के’ जो 1996 में रिलीज हुई थी. इसके निर्देशक थे...
Read more

शूटिंग के दौरान बाल बाल बचा : स्व.प्यारे मोहन सहाय (अभिनेता)

शूटिंग के दौरान बाल बाल बचा : स्व.प्यारे मोहन सहाय (अभिनेता)
जब हम जवां थें By: Rakesh Singh ‘Sonu’       मैं बी.एन.कॉलेज का विद्यार्थी था लेकिन ग्रेजुएशन बीच में ही छोड़ मुझे नौकरी करनी पड़ी.रेलवे मेल सर्व...
Read more

सपना था हॉस्टल में रहना

सपना था हॉस्टल में रहना
गाजीपुर, यू.पी. की काजल सिंह कहती हैं – अपने होम टाउन से पहली बार मैं 2013  में पटना के एक हॉस्टल में आयी.मेरा और मेरे गार्जियन दोनों का सपना था कि मैं पटना वीमेंस...
Read more
[vc_raw_html][/vc_raw_html][/vc_column][/vc_row][vc_row][vc_column][vc_column_text]
[/vc_column_text][/vc_column][/vc_row]