राम की नगरी अयोध्या में सुप्रसिद्ध कवि मनोज भावुक सम्मानित 

आचार्य नरेन्द्रदेव कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, कुमारगंज, अयोध्या में आयोजित स्वास्थ्य संसद...

बिहार में पहली बार हुआ मिस यूनिवर्स का ऑडिशन, काजल होंगी मिस यूनिवर्स की प्रतिभागी

पटना, 21 जुलाई 2024, मिस यूनिवर्स इंडिया का बिहार स्टेट ऑडिशन राजधानी पटना के निफ्ट कैंपस में संपन्न...

डिग्री के साथ कौशल का होना रोजगार की गारंटी : ऋतुराज सिन्हा

पटना, 15 जुलाई 2024 विश्व युवा कौशल दिवस (वर्ल्ड यूथ स्किल डे) के अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय मंत्री...

साइनेज इंडस्ट्रीज एसोसिएशन ने माननीय नगर विकास मंत्री श्री नितिन नवीन को साईनेज कर की अनियमितता से सम्बंधित ज्ञापन सौंपा

पटना, 4 जुलाई 2024, साइनेज इंडस्ट्रीज एसोसिएशन, बिहार के अध्यक्ष श्री प्रेमचंद श्रीवास्तव, सचिव श्री...

पटना, 29 जून, 2024 को "बोलो जिंदगी वेलफेयर फाउन्डेशन" और "न्यू लाइफ हॉस्पिटल" के तत्वावधान में "डॉक्...

और लगाना पड़ा था फर्श पर पोछा : स्व.गिरीश रंजन, फिल्म निर्देशक

जब हम जवां थेंBy: Rakesh Singh ‘Sonu’ बचपन में मुझेसाहित्य से बड़ालगाव था. शरतचंदके साहित्य नेमुझे भावुक बनादिया. नतीजा यहकि तभी सेफिल्में आकर्षित करने लगीं, न...
Read more

बिहारी लोगों को बोली गयी बात मन में चुभ गयी : बिहार कोकिला, पद्मश्री, स्व.विंध्यवासिनी देवी,लोक गायिका

बिहारी लोगों को बोली गयी बात मन में चुभ गयी : बिहार कोकिला, पद्मश्री, स्व.विंध्यवासिनी देवी,लोक गायिका
सन 1948 में जब पटना में ‘आकाशवाणी‘ की शुरुआत हुई, तब से मेरा काम और बढ़ता गया. यूँ कहें कि मैं बिहार केलिए आकाशवाणी की देन हूँ, वही मेरा मंदिर, मस्जिद, गुरुद्व...
Read more

कुश्ती और फ़िल्में देखने का शौक था : स्व. रामसुंदर दास, भूतपूर्व मुख्यमंत्री, बिहार

कुश्ती और फ़िल्में देखने का शौक था : स्व. रामसुंदर दास, भूतपूर्व मुख्यमंत्री, बिहार
  1941  में कोलकाता के विधासागर कॉलेज से इंटर करने के बाद राजनीति में चला आया और इतना रम गया कि फिर आगे पढाई नहीं कर पाया. लेकिन हाँ, किताबें पढ़ने का शौक अनवरत जारी ...
Read more

तब स्पॉट बॉय ने भी मुझे तंग किया था : के.के.गोस्वामी (हास्य अभिनेता)

वो मेरी पहली शूटिंग By: Rakesh Singh ‘Sonu’ मेरी पहली फिल्म थी भोजपुरी भाषा की ‘रखिह लाज अचरवा के’ जो 1996 में रिलीज हुई थी. इसके निर्देशक थे...
Read more

शूटिंग के दौरान बाल बाल बचा : स्व.प्यारे मोहन सहाय (अभिनेता)

शूटिंग के दौरान बाल बाल बचा : स्व.प्यारे मोहन सहाय (अभिनेता)
जब हम जवां थें By: Rakesh Singh ‘Sonu’       मैं बी.एन.कॉलेज का विद्यार्थी था लेकिन ग्रेजुएशन बीच में ही छोड़ मुझे नौकरी करनी पड़ी.रेलवे मेल सर्व...
Read more