संपन्न हुआ दो दिवसीय फर्स्ट पटना डिस्ट्रिक्ट जम्प रोप चैम्पियनशिप  

संपन्न हुआ दो दिवसीय फर्स्ट पटना डिस्ट्रिक्ट जम्प रोप चैम्पियनशिप  

 

ओपनिंग सेरेमनी –

प्रथम पटना डिस्ट्रिक्ट जम्प रोप चैम्पियनशिप का उद्घाटन करते हुए अतिथिगण

 

 

पटना, 8-9 दिसंबर, आईआईबीएम ऑडोटोरियम में संपन्न हुआ दो दिवसीय फर्स्ट पटना डिस्ट्रिक्ट जम्प रोप चैम्पियनशिप. फर्स्ट डे ओपनिंग सेरेमनी कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि आकाशवाणी पटना के सहायक निदेशक डॉ. किशोर सिंहा, विशिष्ट अतिथि डॉ. दिवाकर तेजस्वी एवं राकेश सिंह ‘सोनू’ (संस्थापक,बोलो ज़िंदगी) उपस्थित हुए. तो वहीँ सेकेण्ड डे क्लोजिंग सेरेमनी कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि पटना विश्विधालय, इतिहास विभाग की प्रोफेसर डॉ. माया शंकर, विशिष्ट अतिथि पूर्व आईएएस श्री श्याम जी सहाय एवं पटना दूरदर्शन के प्रोग्राम एक्सक्यूटिव श्री मनोज प्रभाकर उपस्थित हुए.

बिहार जम्प रोप संघ के तत्वाधान में दो दिवसीय प्रथम पटना जिला जम्प रोप प्रतियोगिता का शुभारम्भ 8 दिसंबर (शनिवार) को हुआ. इस कार्यक्रम का उदघाट्न मुख्य अतिथि डॉ. किशोर सिंहा ने किया. इस मौके पर विशिष्ट अतिथियों ने खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए जम्प रोप खेल तथा इससे होने वाले फायदे पर अपने-अपने वक्तव्य रखें.

 

 

अपना वक्तव्य रखते हुए मुख्य अतिथि डॉ.किशोर सिन्हा, विशिष्ट अतिथि ‘बोलो जिंदगी’ के संस्थापक ‘राकेश सिंह ‘सोनू’ एवं डॉ. दिवाकर तेजस्वी

 

 

मुख्य अतिथि आकाशवाणी पटना के सहायक निदेशक डॉ. किशोर सिन्हा जी ने कहा कि “प्राचीन काल से ही इस खेल को अपने देश में खेला जाता रहा है. आज यह खेल विश्व के अनेकों देशों में अपनी लोकप्रियता बढ़ा रहा है. खेल कोई भी हो वह आपस में प्रेम एवं सौहार्द बढ़ाता है.” वहीँ डॉ. दिवाकर तेजस्वी ने इस खेल को स्वास्थ से जोड़ते हुए कहा कि “अगर इस खेल को युवा अपनी दिनचर्या में अपना लें तो वे अनबैलेंस लाइफ स्टाइल की वजह से कम उम्र में डायबटीज के शिकार होने से बच जायेंगे.” वहीँ ‘बोलो ज़िन्दगी’ के राकेश सिंह ‘सोनू’ ने स्वेक्षा से यह स्वीकार करते हुए कहा कि “हमारे जैसे कुछ युवा ऐस हैं जो काम के प्रेशर या अन्य वजहों से एक्सरसाइज के लिए ना ही वक़्त निकाल पाते हैं ना ही घर से बाहर मॉर्निग वॉक पर ही जा पाते हैं. तो उनके लिए जम्प रोप से बढ़िया और कुछ नहीं है. इसके जरिए वे घर में ही कुछ वक़्त देकर फिट एन्ड फाइन रह सकते हैं.”

 

 

 

कार्यक्रम के आयोजक व गोल्ड मेडलिस्ट जम्प रोप इंटरनेशनल खिलाड़ी सचिन मिश्रा अपना वक्तव्य रखते हुए एवं मंच संचालन करती हुईं अंकिता (दाएं)

 

 

 

इस कार्यक्रम के आयोजक सह “दक्षिण एशियाई जम्प रोप प्रतियोगिता” में भारत का प्रतिनिधित्व कर स्वर्ण पदक जीतने वाले बिहार के अंतरराष्ट्रीय जम्प रोप खिलाड़ी सचिन मिश्रा ने इस खेल के कई सारे अनसुने और रोचक तथ्य खिलाड़ियों के संग साझा किये. इस खेल के बारे में जिक्र करते हुए सचिन ने कहा कि “यह लोगों के लिए कोई नया खेल नहीं है, इस खेल को द्वापर युग से ही रस्सी कूद के नाम से खेला जा रहा है.”

 

 

 

 

 

अतिथियों को सम्मानित करते हुए बिहार जम्प रोप संघ के खिलाड़ी

 

 

 

कार्यक्रम का बखूबी मंच संचालन पटना कॉलेज के पत्रकारिता विभाग की छात्रा अंकिता ने किया. इस जिला स्तरीय प्रतियोगिता में पटना के विभिन्न विद्यालयों के लगभग 150 बालक और बालिकाओं ने खेल के अलग अलग प्रतिस्पर्धा में अपना हुनर दिखाया.

 

 

 

 

 

 

अतिथियों के समक्ष जम्प रोप का डेमो दिखाते हुए खिलाड़ी

 

 

 

इस कार्यक्रम के मुख्य आकर्षण का केंद्र पाटलिपुत्र जम्प रोप अकादमी के खिलाड़ियों द्वारा किया गया डेमो रहा, जिसमें खिलाड़ियों ने रस्सियों के साथ कई रोचक और हैरतअंगेज करतब दिखाकर दर्शकों का दिल जीत लिया और ढेरों तालियाँ बटोरीं. यश राज, रोहित, अभिनव,विशाल,राणो सिंह, मान्या सिंह,रॉनित राज,अभिमन्यू राज,पुष्प एवं सचिन इस जम्प रोप डेमो टीम के हिस्सा थें.

 

 

 

 

 

क्लोजिंग सेरेमनी –

क्लोजिंग सेरेमनी की मुख्य अतिथि प्रो. डॉ. माया शंकर, विशिष्ट अतिथि श्री श्याम जी सहाय एवं श्री मनोज प्रभाकर अपना वक्तव्य देते हुए

 

बिहार जम्प रोप संघ के तत्वाधान में आईआईबीएम ऑडिटोरियम में प्रथम पटना जिला जम्प रोप प्रतियोगिता के समापन सह पुरस्कार वितरण समारोह 9 दिसंबर (रविवार) को सम्पन्न हुआ. कार्यक्रम में मुख्य अतिथि पटना विश्विधालय, इतिहास विभाग की प्रोफेसर डॉ. माया शंकर, विशिष्ट अतिथि पूर्व आईएएस श्री श्याम जी सहाय एवं पटना दूरदर्शन के प्रोग्राम एक्सक्यूटिव श्री मनोज प्रभाकर ने अपने वक्तव्य द्वारा तमाम प्रतिभागियों का उत्साहवर्धन किया तथा विजेता खिलाडियों को मैडल पहनाकर सम्मानित किया. इससे पहले ‘बोलो जिंदगी’ के राकेश सिंह ‘सोनू’ ने कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए मौजूद अतिथियों से सबका परिचय कराते हुए उनसे जुड़े कुछ रोचक संस्मरण सुनाएँ और अतिथियों को अपना वक्तव्य रखने के लिए आमंत्रित किया. मुख्य अतिथि प्रो. डॉ. माया शंकर ने कहा कि “इन बच्चों को यूँ खेलते देखकर मुझे अपना बचपन याद आ गया जब हम भी बचपन में रस्सी कूद खेला करते थें. वैसे तो हमारे समाज से यह खेल लगभग लुप्त हो चला है, लेकिन सचिन जैसे युवा अगर इस खेल को फिर से सबके सामने लाकर उसे पुनर्जीवित करते हैं तो सराहनीय है.” वहीँ विशिष्ट अतिथि श्री श्याम जी सहाय ने कहा कि “जितना आज के वक़्त में पढ़ना जरुरी है उतना ही खेलना भी क्यूंकि आज के युग में बच्चे खेल के मैदान में कम दिखते हैं और मोबाईल के स्क्रीन पर ही गेम खेलते हुए ज्यादा नज़र आते हैं जो उनके शारीरिक और मानसिक विकास के लिए घातक है. इसलिए जम्प रोप जैसे खेल को और बढ़ावा देना चाहिए.” मनोज प्रभाकर ने कहा कि “अच्छा लगता है जब इतने कम उम्र के बच्चे इस खेल के माध्यम से अपने अभिभावकों के साथ-साथ अपने समाज, अपने स्टेट और देश का नाम रौशन करैत हैं. हमे जरुरत है इस खेल और इसके होनहार खिलाड़ी बच्चों को समय-समय पर प्रोत्साहित करते रहने की.”

 

 

    विजेता खिलाडियों को पुरष्कृत करते हुए अतिथिगण

इस प्रतियोगिता में सन इंटरनेशनल, इमेज इंटरनेशनल, कैम्ब्रियन कॉन्वेंट, पाटलिपुत्र स्पोर्ट्स एकेडमी के बच्चों ने काफी बेहतर परफॉर्मेंस किया. ओवरऑल विजेता सन इंटरनेशनल रहा, वहीँ इमेज इंटरनेशनल उप विजेता रहा. इस पूरे प्रतियोगिता में सबसे बेहतर प्रदर्शन करने पर नॉट्रेडेम एकेडमी की स्टूडेंट रानो सिंह को ‘जम्पर ऑफ़ द चैम्पियनशिप’ अवार्ड से सम्मानित किया गया. इस मौके पर बिहार जम्प रोप के मुख्य कोच सह तकनिकी निदेशक जय कुमार सोनी मौजूद थे. रेफरी की भूमिका में थें विशाल, आदित्य मिश्रा, अभिमन्यु, पुष्प, आदित्य राज रंजन रोहित उपाध्याय.

List of winner contestants

SOLO EVENT

Double Under boy (Below 12 year boy)

  1. Lucky – Gold – patliputra sport academy
  2. Subhjeet – Silver – patliputra sport academy
  3. Prateek – Bronze – patliputra sport academy

 

Double Under girl (Above 12 Year)

Rano Singh – Gold – patliputra sport academy

 

Double Under girl (Below 12 Year)

Manya Singh – Gold – patliputra sport academy

 

चैम्पियन सन इंटरनेशनल की टीम एवं ‘जम्पर ऑफ़ द चैम्पियनशिप’ अवार्ड से सम्मानितरानो सिंह (नीचे)

Single Hop (Below 12 year boy)

  1. Hritik Raushan – Gold – Cambrian Convent
  2. Anshuman – Silver – patliputra sport academy
  3. Raunit – Bronze – patliputra sport academy

 

Single Hope (Below 12 year girl)

  1. Shristi – Gold – Image International
  2. Riya – Silver – Sun International
  3. Shree – Bronze – Sun International

 

TEAM EVENT

Double dutch Speed Relay (boy)

Lucky, Prateek, Subhjeet – Gold Medal

Double dutch (girl)

Prakriti, Lawanya, Pragati – Silver Medal

 

 

 

 

 

 

 

About The Author

Rakesh Singh Sonu

'Bolo Zindagi' s Founder & Editor Rakesh Singh 'Sonu' is Reporter, Researcher, Poet, Lyricist & Story writer. He is author of three books namely Sixer Lalu Yadav Ke (Comedy Collection), Tumhen Soche Bina Nind Aaye Toh Kaise? (Song, Poem, Shayari Collection) & Ek Juda Sa Ladka (Novel). He worked with Dainik Hindustan, Dainik Jagran, Rashtriya Sahara (Patna), Delhi Press Bhawan Magazines, Bhojpuri City as a freelance reporter & writer. He worked as a Assistant Producer at E24 (Mumbai-Delhi).

Related posts

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

336×280
336×280