‘टेस्‍ट ऑफ इंडिया’ फूड फेस्टिवल में लीजिये एक साथ देश के विभिन्‍न राज्‍यों के जायके का मजा

https://www.youtube.com/watch?v=t_0hnODf-hs   पटना, 12 अक्‍टूबर, अगर आपको पटना में बैठे-बैठे है...

बोलो ज़िन्दगी फैमली ऑफ़ द वीक : ‘बीइंग हेल्पर’ के फाउंडर शुभम कुमार ‘सन्नी’, राजीवनगर, पटना

पिछले हफ्ते 'बोलो ज़िन्दगी फैमली ऑफ़ द वीक' के तहत बोलो ज़िन्दगी की टीम (राकेश सिंह 'सोनू', प्रीतम कुमा...

बड़े परदे पर दिखेगी बिहार में क्रिकेट के पीछे की राजनीति

https://www.youtube.com/watch?v=NQnDQ75Y6sg (रिपोर्टिंग : प्रीतम कुमार, स्टोरी : राकेश सिंह 'सोनू' )...

ये बनकर आएं पटना के रियल हीरो

पटना, जब लगातार हुई भारी बारिश और ड्रेनेज सिस्टम के ध्वस्त होने से पटना पानी-पानी हो गया, कई मोहल्ले...

पानी-पानी हुए पटना में आम आदमी से लेकर वीवीआईपी भी हैं भुक्तभोगी

https://www.youtube.com/watch?v=V9TmS_V4zr8 पटना, 30 सितंबर, लगातार भारी वर्षा के बाद जब बोलो ज़िन्दग...

बोलो ज़िन्दगी फैमली ऑफ़ द वीक : डांस टीचर नवीन की फैमिली, खगौल, पटना 

21 सितंबर, शनिवार की शाम 'बोलो ज़िन्दगी फैमली ऑफ़ द वीक' के तहत बोलो ज़िन्दगी की टीम (राकेश सिंह 'सोनू'...

फ्रेंडशिप (लेखक: राकेश सिंह ‘सोनू’)

लघु कथा  यह उसका तीसरा बॉयफ्रेंड था. पहनावे व हावभाव से वह भांप गई कि मुर्गा पैसेवाला है. जब लड़के ने बताया कि वह किराये के मकान में रहता है, तो उसे हैरत ना हुई. मगर...
Read more

सबक (लेखक: राकेश सिंह ‘सोनू’)

लघु कथा बस में उसे किसी ने चुटकी काट ली. उसे बुरा लगा. वही हरकत दोबारा हुई.    इस भीड़ में वह किस पर शक करती ?  तीसरी बार वही हुआ. इस बार उसने देख लिया. लड़क...
Read more

और लगाना पड़ा था फर्श पर पोछा : स्व.गिरीश रंजन, फिल्म निर्देशक

जब हम जवां थेंBy: Rakesh Singh ‘Sonu’ बचपन में मुझेसाहित्य से बड़ालगाव था. शरतचंदके साहित्य नेमुझे भावुक बनादिया. नतीजा यहकि तभी सेफिल्में आकर्षित करने लगीं, न...
Read more

बिहारी लोगों को बोली गयी बात मन में चुभ गयी : बिहार कोकिला, पद्मश्री, स्व.विंध्यवासिनी देवी,लोक गायिका

बिहारी लोगों को बोली गयी बात मन में चुभ गयी : बिहार कोकिला, पद्मश्री, स्व.विंध्यवासिनी देवी,लोक गायिका
सन 1948 में जब पटना में ‘आकाशवाणी‘ की शुरुआत हुई, तब से मेरा काम और बढ़ता गया. यूँ कहें कि मैं बिहार केलिए आकाशवाणी की देन हूँ, वही मेरा मंदिर, मस्जिद, गुरुद्व...
Read more

कुश्ती और फ़िल्में देखने का शौक था : स्व. रामसुंदर दास, भूतपूर्व मुख्यमंत्री, बिहार

कुश्ती और फ़िल्में देखने का शौक था : स्व. रामसुंदर दास, भूतपूर्व मुख्यमंत्री, बिहार
  1941  में कोलकाता के विधासागर कॉलेज से इंटर करने के बाद राजनीति में चला आया और इतना रम गया कि फिर आगे पढाई नहीं कर पाया. लेकिन हाँ, किताबें पढ़ने का शौक अनवरत जारी ...
Read more
250 x 250
250 x 250