बोलो ज़िन्दगी फैमली ऑफ़ द वीक : पर्यावरण संरक्षक नरेश अग्रवाल की फैमली, नाला रोड, पटना

https://www.youtube.com/watch?v=x-nLTyrv3t8 11 अगस्त, रविवार की सुबह 'बोलो ज़िन्दगी फैमली ऑफ़ द वीक' क...

‘सावन में रोमांस’ के बहाने समाज को भी जागरूक किया गया

https://www.youtube.com/watch?v=KZIWnFSSw7c     पटना, हरे-हरे लिबास ओढ़े जब सावन धरती पर उत...

बोलो ज़िन्दगी फैमली ऑफ़ द वीक : टीवी एंकर प्रिया सौरभ की फैमली, गोला रोड, पटना

इस वीकेंड 'बोलो ज़िन्दगी फैमली ऑफ़ द वीक' के तहत बोलो ज़िन्दगी की टीम (राकेश सिंह 'सोनू' एवं प्रीतम कुम...

तीन दिवसीय प्रेमनाथ खन्ना स्मृति समारोह हुआ सम्पन्न

  पटना, कला जागरण और सामयिक परिवेश द्वारा आयोजित (27 से 29 जुलाई) तीन दिवसीय प्रेमनाथ खन्ना स्म...

बोलो ज़िन्दगी फैमली ऑफ़ द वीक : जान्हवी सिन्हा की फैमली, न्यू पाटलिपुत्रा कॉलोनी, पटना

27 जुलाई , शनिवार की शाम 'बोलो ज़िन्दगी फैमली ऑफ़ द वीक' के तहत बोलो ज़िन्दगी की टीम (राकेश सिंह 'सोनू'...

बोलो ज़िन्दगी फैमली ऑफ़ द वीक : श्रीमती पूनम धानुका मोर की फैमली, नागेश्वर कॉलोनी, पटना

20 जुलाई , शनिवार की शाम 'बोलो ज़िन्दगी फैमली ऑफ़ द वीक' के तहत बोलो ज़िन्दगी की टीम (राकेश सिंह 'सोनू'...

कुश्ती और फ़िल्में देखने का शौक था : स्व. रामसुंदर दास, भूतपूर्व मुख्यमंत्री, बिहार

कुश्ती और फ़िल्में देखने का शौक था : स्व. रामसुंदर दास, भूतपूर्व मुख्यमंत्री, बिहार
  1941  में कोलकाता के विधासागर कॉलेज से इंटर करने के बाद राजनीति में चला आया और इतना रम गया कि फिर आगे पढाई नहीं कर पाया. लेकिन हाँ, किताबें पढ़ने का शौक अनवरत जारी ...
Read more

तब स्पॉट बॉय ने भी मुझे तंग किया था : के.के.गोस्वामी (हास्य अभिनेता)

वो मेरी पहली शूटिंग By: Rakesh Singh ‘Sonu’ मेरी पहली फिल्म थी भोजपुरी भाषा की ‘रखिह लाज अचरवा के’ जो 1996 में रिलीज हुई थी. इसके निर्देशक थे...
Read more

शूटिंग के दौरान बाल बाल बचा : स्व.प्यारे मोहन सहाय (अभिनेता)

शूटिंग के दौरान बाल बाल बचा : स्व.प्यारे मोहन सहाय (अभिनेता)
जब हम जवां थें By: Rakesh Singh ‘Sonu’       मैं बी.एन.कॉलेज का विद्यार्थी था लेकिन ग्रेजुएशन बीच में ही छोड़ मुझे नौकरी करनी पड़ी.रेलवे मेल सर्व...
Read more

सपना था हॉस्टल में रहना

सपना था हॉस्टल में रहना
गाजीपुर, यू.पी. की काजल सिंह कहती हैं – अपने होम टाउन से पहली बार मैं 2013  में पटना के एक हॉस्टल में आयी.मेरा और मेरे गार्जियन दोनों का सपना था कि मैं पटना वीमेंस...
Read more
250 x 250
250 x 250